Does the pain of rape victim/family depends on the religion? – old article during Kathua case reproduced here

The recent Kathua incident is a chilling reminder of how media can fire up frenzy in the country without little regard to the fairness in reporting.  This is a sad incident that deserves to question our conscience just as so many such incidents being reported just in last few days.    The media frenzy seems to stem from the victim being a minority member (Muslim) and the perpetrator is a majority community member (Hindu) and to portray that there is a wave of Muslim persecution in the country under BJP/Narendra Modi rule.

However, the social media groups are circulating of so many incidents that are reported in the media itself where the minor victim is a Hindu and perpetrator are Muslims (see below) as recently as April 11th where three men  Muslims gang raped a 7 year old Hindu girl in Bijnor-amarujala (see all the incidents from just last few days below).   I have personally worked on the plight of Hindu girls in Muslim majority areas in West Bengal were there are many instances of minor girls  picked up and passed around to be raped in various places.  In fact, National Commission for Women, NCW has interviewed some of those girls in Kolkata 2 or 3 years ago.     Does the pain of family/child that goes through this feel differently because of what religion they belong to?
Links of media articles from just last few days minors being raped where religion of victim is Hindu and that of perpetrator is Muslim (as reported in social media).
What is alarming from the Asifa case is how it is being used to portray a false image of a wave of Muslim persecution in this country. The facts on the ground however tell the opposite tale.
Not one of the cases listed above happened prior to March 2018, and all of them have the same elements as those involving the Asifa case – multiple perpetrators coincidentally belonging to the same community, a minor victim belonging to the other community and the same gruesome,unspeakable acts.
Did you hear about them in the mainstream tv media? Did Javed Akhtar tweet about them? Did you see bollywood actresses wear extra make up and pose with a signboard with these news? I bet you did not. Spread the word, and ask them why this “Selective Outrage”.
Here are a few incidents in which there is a clear pattern of Muslims targeting Hindu minors:
1)  Sheikh Munna, 45, is accused of dragging the 3 year toddler onto a parked luxury bus after catching her attention by offering her chocolate.    -NDTV., Mar 10th 2018(lUBzv)
2) 3 Muslim men Salman, Khursheed and Uvesh gang raped a 7 year old girl in Bijnor-amarujala,11 Apr 2018(JkJVp):
3) Muslim man Sajid arrested for attempting to rape a boy uttarakhand-jagran,10 Apr 2018:
4) Muslim man Imran abduct and raped 16 year old Hindu girl in Meerut-Amarujala,08 Apr 2018(duCQe):
5) Muslim man Ayyub murdered 4 year old girl after he failed to rape her in Muzaffarnagar-amarujala,09 Apr 2018(GfWhF):
6) Fateh, Muzammil, gaffar arrested for raping minor girl in Ghaziabad-amarujala,07 Apr 2018(34UgT):
7) 16 year old girl who left home in fit of anger met Ashfaq who raped her with Salman-naidunia.jagran.com,04 Apr 2018(Txehz):
8) Inteyaz Ansari and Afroz Ansari gang raped a minor girl in Jharkand-jagran,04 Apr 2018(1OZqV):
9) Muslim Maulana Shamsheer Raza raped 12 year old girl on roof of mosque and threatened her parents against filing the case-jagran,03 Apr 2018(qfpyR):
10) Aabed Mohammed Shaikh killed 4 year old Payal Prasad, chopped off her hands, because he owed Rs.1500/- to her father,10 April 2018:
11) Assam: Class V girl set on fire after gang rape, dies,March 2018:
12) Communal flare-up, after kidnapped 9-year-old girl recovered from scrap dealers shop,Mar 4, 2018:
What are the roots of this media frenzy?

The same media frenzy is seen during 2002 Gujarat riots where media houses would only interview Muslim victims but so many riots happened in same Gujarat prior to that, they did not receive such attention because in every one of them the Hindu community was most affected except  2002 riots where the Muslim community was most affected.   This is also reminiscent of Hindu spiritual leader  Sankaracharya arrest on Hindu festival Diwali day where with little respect or regard to majority community, media went on accusing him of all kinds of issues that Supreme Court has to deliver a warning to stop.    Arun Shourie, in his wonderful book,   ‘Harvesting our Souls’, goes into details of how this was done in not just one incident, but incident after incident where Christian missionary organizations and media colluded to create such frenzies to ensure that conversion activity in India goes unabated.   In this presentation ‘Death to Hinduism‘ viewed by thousands or even lacs of people on social media it goes into all the details of what is happening in India by Christian Missionaries in collusion with Congress and Sonia Gandhi.   Rajiv Malhotra, in ‘Breaking India’ book  have detailed about the efforts of these organizations including the Dravidian movements or the frenzy after Gujarat riots. 

As days go by and central elections come near,  we are going to see every small incident blown up and even given international attention. Not  just that, incidents will be increasingly engineered by professional protesters and hoodlums as we have seen with SC/ST related ruling, farmers protests.  Every possible incident where BJP and Modi can look bad will be blown up.   Congress with its enormous resources have decided that they do not have to wait for another term of Modi and can bring down Modi in 2019.
Modi ji can learn something from Trump
 
Modi ji can learn something from Trump on calling out the media for what it is.   Selective presentation of facts and the frenzy is nothing short of propaganda.   As 2019 elections come closer, there will be frenzy to show Modi and BJP in a poor light by blowing up things.  Not just that, there will be more engineered riots using professional rioters to divide the country.   Not a single BJP leader questioned these facts and ask a simple question, ‘Does the pain of rape victim/family depends on the religion?’    There is hardly any BJP social media questioning things and it is believed that congress with its enormous resources not only paid the journalists large sums to spin stories but also buy out those who are working for BJP to subdue any response.

References:

1)  Sheikh Munna, 45, is accused of dragging the 3 year toddler onto a parked luxury bus after catching her attention by offering her chocolate.    -NDTV., Mar 10th 2018(lUBzv)

3-Year-Old Raped Inside Bus In Kolkata, Brother Pleaded With Accused To Let Her Go

The alleged incident happened last evening, when the bus cleaner dragged the victim inside the parked bus on Canal (West) Road in north Kolkata and then allegedly raped her.

EMAIL
PRINT
30COMMENTS

3-Year-Old Raped Inside Bus In Kolkata, Brother Pleaded With Accused To Let Her Go

Kolkata police said the 3-year-old was lured with chocolates and taken inside a bus. (Representational)

KOLKATA: 

HIGHLIGHTS

  1. Bus cleaner lured girl into bus on the pretext of giving chocolate
  2. Brother banged on bus door pleading to let his sister go: police
  3. Neighbours rescued the child from the bus, thrashed the cleaner

A three-year-old girl has been allegedly raped on Monday by a bus-cleaner inside a parked luxury bus in Kolkata’s Canal (West) Road, police said on Tuesday.

The accused 45-year-old Sheikh Munna has been arrested for allegedly raping the girl who is being treated at the RG Kar Medical College and Hospital, a senior officer of Kolkata Police said.

“We are waiting for the report of the tests conducted on the girl to confirm rape. We are questioning the accused and our forensic experts have collected samples from the spot where the alleged incident took place,” the officer said.

According to doctors at the state-run medical facility, the girl was bleeding heavily when she was brought to the hospital.

“She had bled profusely but her condition has improved since last night and possibly she will survive. Signs are clear that she had been brutalised,” one senior doctor said.

The alleged incident happened last evening, when the accused Munna had dragged the victim inside the parked bus on Canal (West) Road in north Kolkata and then allegedly raped her.

The victim was playing with her five-year-old brother when Munna had allegedly lured her inside the bus on the pretext of giving her a chocolate, the officer said.

“The victim’s brother had pleaded with Munna to open the door and let her his sister go when she was screaming. The boy continued banging on the bus’s door but there was no result,” he said.

The boy then ran to inform about the incident to their mother, who is a widowed rag-picker.

“The woman alerted her neighbours, who rushed to the bus and rescued her from the accused’s grip and then thrashed him before informing the police.

“We found the girl lying in a pool of blood on a bus seat. The child’s clothes were torn and she was bleeding profusely,” the senior police officer said adding that the accused had blood on his hands and trousers when he was arrested.

Forensic experts have also collected blood samples and stains from the bus which has been seized, the officer added.

2) 3 Muslim men Salman, Khursheed and Uvesh gang raped a 7 year old girl in Bijnor-amarujala,11 Apr 2018(JkJVp):

यूपी: 7 साल की बच्ची से सामूहिक बलात्कार, मासूम की हालत देख उड़े परिजनों के होश

यूपी डेस्क, अमर उजाला, बिजनौर Updated Wed, 11 Apr 2018 04:33 PM IST
फाइल फोटो
फाइल फोटो

यहां तीन दरिंदों ने एक सात साल की बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार किया। वहीं बच्ची को रोती बिलखती देख परिजनों के होश उड़ गए। जानिए फिर क्या हुआ…

यह मामला यूपी के बिजनौर शहर का है। धामपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में तीन युवकों ने सात वर्षीय बच्ची के साथ गैंग रेप किया। पुलिस ने सूचना मिलने पर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर चालान कर दिया है।

एक गांव में जब सात वर्षीय बच्ची नौ अप्रैल की शाम को एक दुकान से सामान लेने के लिए जा रही थी। तब गांव के सलमान पुत्र शहबाज, खुर्शीद पुत्र नसीरूद्दीन, उवेश पुत्र लईक अहमद बदनियती से बच्ची को उठाकर ले गए। और तीनों आरोपियों ने रेप किया। जब बच्ची काफी देर तक घर पहुंची तो परिजनों ने उसकी तलाश की। तलाशी के दौरान जब बच्ची रोती बिलखती आ रही थी तो उसकी हालत को देख परिजनों के होश उड़ गए। ग्रामीणों ने रात में ही पुलिस को घटना की सूचना दी।

पढ़ें : यूपी: कमरे में घुसकर किशोरी से जबरन बलात्कार, विरोध करने पर बेरहमी से पीटा और फिर…

वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। बच्ची को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए बिजनौर भेज दिया। पुलिस ने बच्ची के परिजनों की तहरीर पर संबंधित धाराओं में रिपोर्ट कायम कर कार्रवाई की है। गौरतलब है कि चार दिन पहले भी इस गांव में गैर समुदाय के व्यक्ति ने मनोरोगी किशोरी के साथ दुष्कर्म की वारदात की थी। कोतवाल मनोज कुमार का कहना है कि दुष्कर्म के तीनों आरोपियों को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर चालान कर दिया है।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/

3) Muslim man Sajid arrested for attempting to rape a boy uttarakhand-jagran,10 Apr 2018:

किशोर के साथ कुकर्म का प्रयास

Publish Date:Tue, 10 Apr 2018 04:38 PM (IST)
किशोर के साथ कुकर्म का प्रयास
रुड़की: मंडी में सामान लेकर आए एक किशोर के साथ आढ़ती ने कुकर्म का प्रयास किया। लोगों

रुड़की: मंडी में सामान लेकर आए एक किशोर के साथ आढ़ती ने कुकर्म का प्रयास किया। लोगों ने आरोपित को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। लक्सर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी किशोर ट्रक क्लीनर है। सोमवार रात वह नवीन मंडी में आढ़ती की दुकान पर सामान लेकर आया था। रात होने चलते क्लीनर ट्रक के अंदर ही सो गया। सुबह के समय वह शौच के लिए मंडी के पास जंगल में चला गया। आरोप है कि इसी दौरान आढ़ती साजिद ने उसे पकड़ लिया और उसके साथ कुकर्म का प्रयास किया। शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर आ गए। इन लोगों ने साजिद को पकड़कर उसे पुलिस को सौंप दिया। गंगनहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक कमल कुमार लुंठी ने बताया कि पुलिस ने पीड़ित किशोर की तहरीर पर आरोपित साजिद के खिलाफ कुकर्म के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस पकड़े गए आरोपित से पूछताछ कर रही है। (जासं)

Posted By: Jagran

4) Muslim man Imran abduct and raped 16 year old Hindu girl in Meerut-Amarujala,08 Apr 2018(duCQe):

दूसरे समुदाय के युवक ने पहले किशोरी का अपहरण किया, फिर होटल ले जाकर जबरन बलात्कार

यूपी डेस्क, अमर उजाला, बागपत Updated Sun, 08 Apr 2018 11:33 AM IST
फाइल फोटो
फाइल फोटो

यहां एक किशोरी को दूसरे समुदाय का युवक बहला-फुसला कर अपहरण कर ले गया। दरिंदे ने होटल ले जाकर दो दिनों तक जबरन बलात्कार किया। और फिर…

यह मामला उत्तर प्रदेश के बागपत शहर का है। यहां खेकड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव से किशोरी को दूसरे समुदाय का युवक बहला-फुसला कर अपहरण कर ले गया। पटना में दो दिन तक किशोरी के साथ रेप किया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर किशोरी को बरामद कर लिया है। किशोरी का मेडिकल कराया। पुलिस ने रेप के मामले में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेजा। आरोपी बोला, जेल से आने के बाद कर हिसाब पूरा कर दूंगा। मामला दो समुदाय का होने के कारण गांव में तनावपूर्ण स्थिति बनी रही।

खेकड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव से 28 मार्च को 16 वर्षीय किशोरी को दूसरे समुदाय का एक युवक बहला-फुसला कर ले गया था। इस मामले में किशोरी के परिजनों ने आरोपी के खिलाफ खेकड़ा थाने में बहला-फुसला कर अपहरण कर ले जाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। मामला दो समुदाय से जुड़ा होने के कारण तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई थी। पुलिस ने एक अप्रैल को आरोपी युवक को गिरफ्तार कर किशोरी को बरामद कर लिया था। किशोरी का मेडिकल कराया तो उसके साथ रेप की पुष्टि हुई। पुलिस ने रेप की धाराओं में आरोपी इमरान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

किशोरी ने बताया कि आरोपी उसे पटना लेकर गया था। वहां पर एक होटल में दो दिनों तक रखा और उसके साथ जबरन रेप किया। रुपये खत्म होने के बाद उसे वापस बागपत लेकर आ गया था। पुलिस ने किशोरी के न्यायालय में बयान दर्ज कराए। आरोपी युवक को न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया। जेल जाते समय आरोपी इमरान बोला कि उसने किशोरी का अपहरण नहीं किया था। वह उसके साथ अपनी मर्जी से गई थी। घर से साढ़े पांच हजार रुपये भी किशोरी ही लेकर आई थी। उसने कहा कि जेल से आने के बाद वह किशोरी व उसके परिजनों से अपना हिसाब-किताब पूरा कर लेगा। मेरी जिंदगी तो खराब हो गई है। अब मैं उन्हें चैन से जीने नहीं दूंगा।

पढ़ें : CRPF के जवान ने नाबालिग को होटल ले जाकर किया बलात्कार, अश्लील वीडियो वायरल

थ्री व्हीलर में आरोपी को ले गए जेल

फाइल फोटो

फाइल फोटो

आरोपी इमरान को न्यायालय से पुलिस कांस्टेबल मनोज कुमार व होमगार्ड प्रदीप तोमर थ्री व्हीलर में जेल लेकर गए। सिपाही और होमगार्ड में थ्री व्हीलर में तेल डलवाने को लेकर कहासुनी हो गई। दोनों के बीच गाली गलौच हुई। मारपीट तक की नौबत आ गई थी। बाद में किसी तरह मामला शांत हुए।

कई युवतियों को फंसाया प्रेम जाल में 
रेप का आरोपी इमरान न्यायालय से जेल जाते समय थ्री व्हीलर में बैठा हुआ हंस रहा था। उसने कहा कि रेप के मामले में जेल नहीं जाना चाहता था। उसे बचपन से ही दादागिरी का शौक है। उसने कई युवतियों को अपने प्रेम जाल में फंसा कर इस्तेमाल कर छोड़ दिया है।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/

5) Muslim man Ayyub murdered 4 year old girl after he failed to rape her in Muzaffarnagar-amarujala,09 Apr 2018(GfWhF):

दुष्कर्म में विफल होने पर की गई मासूम की हत्या

ब्यूरो, अमर उजाला/मुजफ्फरनगर Updated Mon, 09 Apr 2018 12:13 AM IST
खतौली में बच्ची की हत्या करने का आरोपी युवक।
खतौली में बच्ची की हत्या करने का आरोपी युवक। – फोटो : अमर उजाला

खतौली पुलिस ने चार साल की मासूम बच्ची की हत्या का खुलासा कर दिया। पुलिस ने मुख्य हत्यारोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। हत्यारोपी ने दुष्कर्म में विफल होने पर मासूम की ईंट से सिर कुचल कर हत्या की थी।

पुलिस लाइन में एसपी सिटी ओमवीर सिंह ने पत्रकार वार्ता में हत्याकांड के खुलासे की जानकारी दी। खतौली में चार साल की मासूम बच्ची छह अप्रैल की शाम 7.30 बजे अपनी मां से एक रुपया लेकर दुकान से आइसक्रीम लेने के लिए घर से निकली थी।

मोहल्ला निवासी हत्यारोपी अय्यूब पुत्र कल्लन ने रास्ते में जाते हुए बच्ची को बदनीयती से गोद में उठा लिया। आरोपी दुराचार करने के इरादे से बच्ची को लेकर मोहल्ले में पड़े खाली प्लाट के पास पहुंचा। प्लाट की चारों ओर से चार-चार फीट की दीवार बनी हुई है।

अय्यूब ने बच्ची को दीवार पार प्लाट में उतारना चाहा, लेकिन ऊंची दीवार होने से उसने बच्ची के दोनों हाथ पकड़ कर प्लाट के अंदर छोड़ दिया। अंदर प्लाट में गिरने से मासूम को चोट लग गई, चोट लगने से वह रोने लगी थी। इसके बाद अय्यूब भी दीवार कूदकर प्लाट में चला गया। उसने रोते हुए बच्ची को चुप कराने की काफी कोशिश की। चोट लगने से बच्ची चुप नहीं हुई।

इसी बीच अचानक आंधी तूफान आ गया। उसके चुप न होने से आरोपी दुराचार करने में विफल हो गया। बच्ची अपने परिजनों को कुछ बता न दे, इसलिए हत्यारोपी ने उसकी हत्या करने की ठान ली। उसने प्लाट के अंदर पड़ी ईंट से सिर कुचलकर बच्ची की हत्या कर डाली।

हत्या करने के बाद अय्यूब शव को प्लाट में ही छोड़ कर फरार हो गया। बच्ची के घर नहीं पहुंचने पर परिजन उसे तलाश करने लगे। रात में तलाश करते समय परिजनों को बच्ची का शव प्लाट में पड़ा मिला। मृतका के पिता ने उस वक्त अज्ञात में हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने हत्यारोपी की तलाश प्रारंभ कर दी थी।

एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस ने रविवार को दोपहर एक बजे मोहल्ला बालाजीपुरम के सामने अपने रक्तरंजित कपड़ों को गंगनहर में फेंकने जाते समय अय्यूब को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने अय्यूब को हत्या में नामजद करते हुए जेल भेज दिया है।

गुमराह करने के लिए शव को दीवार के पास डाला 
हत्यारे अय्यूब ने पूछताछ में बताया कि उसने पुलिस को गुमराह करने को बच्ची का शव मकान की दीवार के पास डाल दिया था, ताकि पुलिस को ऐसा लगे कि उसकी मौत आंधी में मकान की छत से नीचे गिरने से हुई है। क्योंकि बच्ची के मकान की दीवार खाली पड़े प्लाट से मिली हुई है। बच्ची की जिस ईंट से हत्या की गई थी। खून से सनी वह ईंट पुलिस को जांच पड़ताल करने पर शव से काफी दूर पड़ी मिली थी।

हत्यारोपी ने बच्ची को लालीपॉप दिलाया 
हत्यारोपी अय्यूब रास्ते में जाते समय बच्ची को गोद में उठाकर मोहल्ले के लोगों की नजरों से बचते हुए एक दुकान पर पहुंचा। दुकान से उसने मासूम को अपने पैैसों से लालीपॉप दिलवाया था। प्लाट के पास बच्ची गोद में लेकर जाते समय मोहल्ले के दो तीन युवकों ने अय्यूब को देख भी लिया था। मोहल्ले में युवकों से पूछताछ करने पर अय्यूब पर पुलिस को शक हो गया। पुलिस उसकी तलाश में लग गई थी।

खून के धब्बे मिटाने को कपड़े भी धोए 
सीओ डॉ. राजीव कुमार सिंह ने बताया कि हत्या करते वक्त अय्यूब के कपड़ों पर खून के धब्बे लग गए थे। उसने घटना वाली रात को घर पहुंचकर अपने कपड़े उतारे और उनको छुपाकर रख दिया था।

शनिवार को अय्यूब ने खून के धब्बे मिटाने को अपने कपड़े खुद धोए। धोने के बाद भी खून के धब्बे नहीं छूट सके थे, इसलिए वह रविवार दोपहर को कपड़ों को गंगनहर में फेंकने जा रहा था। रास्ते में पुलिस ने कपड़ों समेत पकड़ लिया।

पुलिस टीम को दस हजार का इनाम 
एसएसपी अनंत देव तिवारी ने मासूम बच्ची के हत्यारोपी को पकड़ने वाली टीम पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। हत्यारोपी को पकड़ने वाली पुलिस टीम में शामिल इंस्पेक्टर एपी भारद्वाज, एसएसआई योगेंद्र पंवार, एसआई सुनील शर्मा, एसआई केपी सिंह, कांस्टेबिल रोहित कुमार, सोहनवीर सिंह व प्रमोद कुमार को एसएसपी ने दस हजार का इनाम देने की घोषण की है।

बच्ची जैनब के हत्यारोपी को फांसी दिलाओ
खतौली। चार साल की बच्ची जैनब के हत्यारोपी के पकड़े जाने पर पीड़ित परिवार समेत मोहल्ले के लोग एकत्र होकर थाने में पहुंचे। थाने में पीड़ित परिजन रोने बिलखने लगे। पीड़ित परिजनों का रो रोकर कहना था कि हमारी बच्ची के हत्यारोपी को फांसी दिलाओ। पीड़ित परिजनों को इंस्पेक्टर एपी भारद्वाज ने सांत्वना देकर शांत किया।

मोहल्ला सद्दीकनगर निवासी मृतका चार साल की बच्ची जैनब के परिजनों को रविवार की सुबह खबर मिली कि पुलिस ने हत्यारोपी को पकड़ लिया है और थाने में उससे पूछताछ की जा रही है। परिवार के लोग को मोहल्ले वालों के साथ थाने में पहुंचे। थाने में पहुंचते ही पीड़ित परिजन रोने बिलखने लगे। परिजनों के बीच इंस्पेक्टर अंबिका प्रसाद भारद्वाज पहुंचे। पीड़ित परिजनों का कहना था कि जैनब की हत्यारोपी को सिर्फ फांसी की सजा मिले।

फांसी की सजा मिलने पर ही उनके दिल को सुकून पहुंचेगा। मोहल्ले के लोगों ने भी पुलिस से हत्यारोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की मांग पुलिस से की। इंस्पेक्टर ने परिजनों को सांत्वना देते हुए कहा कि हत्यारोपी ने जिस तरह का अपराध किया है। कोर्ट से हत्यारोपी को कड़ी से कड़ी सजा अवश्य मिलेगी। इंस्पेक्टर ने परिजनों को हत्यारोपी को जेल भेजने का आश्वासन देकर वापस घर भेज दिया।

6) Fateh, Muzammil, gaffar arrested for raping minor girl in Ghaziabad-amarujala,07 Apr 2018(34UgT):
<article removed>
7) 16 year old girl who left home in fit of anger met Ashfaq who raped her with Salman-naidunia.jagran.com,04 Apr 2018(Txehz):

मदद के बहाने परिचित ने बंधक बनाकर नाबालिग से की ज्यादती

Updated: | Wed, 04 Apr 2018 01:22 PM (IST)
मदद के बहाने परिचित ने बंधक बनाकर नाबालिग से की ज्यादती
नाबालिग को कमरे में बंधक बनाकर ज्यादती करने का मामला सामने आया है।

भोपाल। नाबालिग को कमरे में बंधक बनाकर ज्यादती करने का मामला सामने आया है। पीड़िता को उसके पिता ने किसी बात को लेकर डांट दिया था। इससे नाराज होकर रिश्तेदार के घर जाने के लिए उसे परिचित से मदद मांगना भारी पड़ गया। आरोपित ने अपने दोस्त की मदद से नाबालिग के साथ दुष्कर्म कर दिया। शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके साथी की तलाश की जा रही है।

ईंटखेड़ी टीआई नीरज वर्मा के अनुसार 16 वर्षीय नाबालिग अपने माता-पिता के साथ रहती है। उसके पिता मंडी में हम्माल हैं। वहीं अशफाक नाम का युवक फल का ठेला लगता है। इस कारण अशफाक का नाबालिग के घर पर आना-जाना था। सोमवार को नाबालिग को पिता ने किसी बात को लेकर डांट दिया था। इससे नाराज होकर वह छोला मंडी में अशफाक के पास पहुंची। पीड़िता ने कहा कि उसे हरीमजार के पास हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रिश्तेदार के घर जाना है। अशफाक ने उसकी मदद के लिए अपने दोस्त सलमान को बाइक लेकर बुलाया। शाम करीब साढ़े पांच बजे दोनों नाबालिग को बाइक पर बैठाकर निकले थे। रास्ते में आरोपित प्लॉट देखने के बहाने पीड़िता को ग्राम पतलोन ले गए। अशफाक ने कहा कि इसके बाद वह उसे घर छोड़ देगा। लेकिन वहां एक सूने मकान में अशफाक ने नाबालिग को बंधक बनाकर ज्यादती की। वहीं किसी को कुछ बताने पर जान से मारने की धमकी दी।

रात में परिजनों के साथ पहुंची थाने

घटना के बाद आरोपित पीड़िता को लांबाखेड़ा के पास छोड़कर फरार हो गए थे। पीड़िता ने अपने परिजनों को फोन कर बुलाया। रात करीब साढ़े दस बजे पीड़िता अपने परिजनों के साथ ईंटखेड़ी थाने पहुंची और आरोपितों के खिलाफ ज्यादती, पोस्को एक्ट समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया। पुलिस अधीक्षक नार्थ अजय सिंह के अनुसार ज्यादती के मामले में अशफाक को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि उसके साथी सलमान की तलाश की जा रही है।

8) Inteyaz Ansari and Afroz Ansari gang raped a minor girl in Jharkand-jagran,04 Apr 2018(1OZqV):

लोहरदगा के भंडरा में नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

Publish Date:Wed, 04 Apr 2018 12:00 PM (IST)

9) Muslim Maulana Shamsheer Raza raped 12 year old girl on roof of mosque and threatened her parents against filing the case-jagran,03 Apr 2018(qfpyR):

मौलाना ने नाबालिग के साथ किया दुष्कर्म

Publish Date:Tue, 03 Apr 2018 06:25 PM (IST)

10) Aabed Mohammed Shaikh killed 4 year old Payal Prasad, chopped off her hands, because he owed Rs.1500/- to her father,10 April 2018: